भारत-की-झीलें

1. वूलर झील :- जम्मू कश्मीर राज्य में स्थित भारत का वृहदतम ताजे जल का झील है। झेलम नदी पर निर्मित यह गोखुर झील का उदाहरण है।

2. डल झील :- हिमानी द्वारा निर्मित श्रीनगर में ताजे जल की झील है।

3. सांभर झील: - राजस्थान में स्थित , भारत का अंतः स्थलीय वृहदत्तम खारे जल की झील है। भारत के 60 %  नमक की आपूर्ति करता है।

4. ढेबर झील :- राजस्थान के उदयपुर स्थित खारे जल की झील है, भारत की सबसे बड़ी कृत्रिम झील है, इसका निर्माण उदयपुर के राजा ने करवाया था।

5. लोकतक झील:- मणिपुर स्थित उत्तर पूर्वी भारत का सबसे बड़ा भारी जल का  झील व जल विद्युत केंद्र भी है। यह झील विश्व में तैरती द्वितीय झील के रूप में प्रसिद्ध है। इस झील में केबुल लामजाओ तैरता राष्ट्रीय पार्क अवस्थित है। यह झील मणिपुर की जीवन रेखा कहलाती है।

6. चिल्का झील: - उड़ीसा स्थित भारत का वृहदतम झील, लैगून झील, खारे पानी की झील, झींगा उत्पादन हेतु प्रसिद्ध है।

7. कोलेरू झील :- आंध्र प्रदेश में कृष्णा गोदावरी डेल्टा में स्थित ताजे पानी की झील है।

8. पुलिकट झील:- आंध्रा प्रदेश एवं तमिलनाडु की सीमा पर स्थित खारे जल की लैगून झील है। श्रीहरिकोटा नामक द्वीप इस झील को सागर से अलग करता है। इस झील के पश्चिमी हिस्से में बकिंघम नहर है।

9. बेम्बनाद झील :- केरल स्थित खारे जल की लैगून झील है। इस झील में वेलिंगटन द्वीप है जहां पर नौकायन प्रतियोगिताएं होती हैं। यह भारत की सबसे लंबी झील है। इस के पूर्वी तट पर कुमारकोम पक्षी अभ्यारण तथा उत्तरी तट पर कोच्चि बंदरगाह अवस्थित है। राष्ट्रीय जलमार्ग संख्या 3 का कुछ हिस्सा इसी झील से गुजरता है।
10. लोनार झील: - महाराष्ट्र के बुलढाणा जिले में स्थित ज्वालामुखी द्वारा निर्मित झील है।
11. रेणुका झील :- हिमाचल के सिरमौर जिला स्थित ताजे पानी की झील है। यहीं पर चिड़ियाघर एवं लायन सफारी स्थित है।

12. रूपकुंड झील :- उत्तराखंड के मध्य स्थित ताजे पानी की प्राकृतिक झील है। यह एक हिमानी झील है, इस झील के किनारे सैकड़ों मानव कंकाल  मिलने के कारण इसे रहस्यमई झील या मानव कंकाल झील के संज्ञा दी गई।

13. सास्थम कोट्टा झील :- केरल के कोल्लम जिला स्थित ताजेजल की झील है।

14. सातताल झील :- उत्तराखंड के कुमाऊ प्रखंड में झीलम ताल नगर के निकट कई जिलों का समूह है जो प्रवासी पक्षियों हेतु स्वर्ग बना जाते हैं।

15. सूरज ताल झील: - हिमाचल प्रदेश में बड़ा लाचा दर्रे के निकट स्थित ताजे जल की झील है।

16. तवावोहर झील :- मध्य प्रदेश के होशंगाबाद जिले में नर्मदा नदी पर बांध निर्माण पर इसे निर्मित किया गया।

17. सोंग्मो झील :- सिक्किम के गंगा टोंक जिला में स्थित ताजे पानी  की झील है।

18. वीरानम झील :-  तमिलनाडु में स्थित कृत्रिम झील है।

19. अष्टमुदी झील:- केरल में स्थित लैगून झील है जिसकी 8 शाखाएं हैं। रामसर समझौते द्वारा इस अंतरराष्ट्रीय महत्व का आद्र भूमि घोषित किया गया है।
20. भीमताल:- उत्तराखंड के कुमाऊं क्षेत्र में मीठे जल की झील जिसके केंद्र में एक छोटा द्वीप भी है। यह पर्यटन स्थल भी है।

21.  भोज झील :- यह मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में मीठे जल की झील व आद्र भूमि है ।

22. चंद्र ताल : - हिमाचल प्रदेश के लाहौल स्पीति जिले में मीठे जल की झील है। लाहुल व स्पीति को जोड़ने वाला कुंजम दर्रा इसी के द्वारा निर्मित है।

23. पंचभद्रा झील :- यह राजस्थान के बाड़मेर जिले में स्थित खारे पानी की झील है।

24. हिमायत सागर झील :- हैदराबाद से लगभग 20 किलोमीटर की दूरी पर स्थित मानव निर्मित झील है, जो मूसी नदी पर निर्मित है।

25. नाको झील :- हिमांचल प्रदेश के किन्नौर जिले स्थित ताजे जल की प्राकृतिक झील है।

26. ओसमान सागर: - हैदराबाद स्थित ताजे जल की कृत्रिम झील है।

27. पुष्कर झील: - जिले में स्थित लूनी नदी द्वारा छोड़ी गई। जल को एकत्र कर मानव निर्मित झील है।

28. नक्की झील: - यह झील राजस्थान में सर्वाधिक ऊंचाई पर स्थित है। यह झील कटोरे नुमा है जो संभवत: कभी ज्वालामुखी का मुख था। यह माउंट आबू में स्थित है।

29. नल सरोवर झील:- यह गुजरात राज्य में स्थित एक ताजा जल की झील है।

30. राजसमंद झील :- राजस्थान के उदयपुर जिले में स्थित मीठे जल की झील है। इस झील में एक द्वीप है जिसमें खेती की जाती है।

Post a Comment

नया पेज पुराने
–>